ढाई साल के बच्चे को मानेलगाई फांसीबाद मेंमां भी लटकीबच्चा बच गया महिला की मौत हो गई जाने क्या बात है

जींद। गांगोली गांव में रविवार दोपहर दिल दहला देने वाली घटना सामने आई। गांब की 25 वर्षीय महिला ने पहले अपने ढाई साल के बेटे को फंदे पर लटकाया, फिर खुद फंदे पर झल गई। इस दौरान बच्चे के गले से फंदा खिसक गया और वह रोने लगा। बच्चे के रोने की आवाज सुनकर परिजन कमरे की तरफ गए तो दरवाजा अंदर से बंद मिला। परिजनों ने महिल को आवाज लगाई तो उसने कोई जवाब नहीं दिया। इस पर उन्होंने दरवाजा तोड़ा तो देखा कि मां-बेटा फंदे पर लटके थे। परिवार वालों ने दोनों को फंदे से उतारा, लेकिन तब तक महिला की मौत हो चुकी थी। मामले की सूचना दुकान पर काम कर रहे महिला के पति अजीत को दी गई तो उसने भी घर आकर फंदा लगाकर आत्महत्या की कोशिश की। लेकिन समय रहते परिजनों ने उसे नीचे उतार लिया।

अजीत की गंभीर हालात को देखते हुए परिजन शहर के नागरिक अस्पताल में लेकर गए, जहां से चिकित्सकों ने उसे रोहतक पीजीआई रेफर कर दिया पर परिवार के लोग उसे हिसार के एक निजी अस्पताल में ले गए। घटना की सूचना मिलने पर पहुंचे एएसपी नीतीश अग्रवाल ने बताया कि अजीत (28) की शादी करीब चार साल पहले सोनीपत के कैनाल गांव निवासी संध्या के साथ हुई थी। दोनों के बीच इगड़ा रहता था। रविवार को संध्या के सास-ससुर रिश्तेदार के यहां शोक जताने के लिए गए हुए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *